Connect with us

Speed India News

Featured

शराब तस्करी मामले में दो दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड।

सीतामढ़ी एसपी के निर्देश पर दो दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मी को शराब तस्करी में संलिप्ता के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया हैं।वहीँ मुजफ्फपुर पुलिस दोनों की गिरफ्तारी को लेकर लगातार छापेमारी कर रही है। सस्पेंड हुए दारोगा रामप्रवेश उरांव नगर थाने में जेएसआई और दारोगा जितेन्द्र कुमार सुमन महिला थाने में जेएसआई के पद पर कार्यरत थे।

शराब तस्करी में नामजद हुए सीतामढ़ी में कार्यरत दोनों दारोगा जीतेंद्र सुमन व रामेप्रश्वर उड़ाव गिरफ्तारी के डर से फरार हैं। पुलिस उनके छिपने के ठिकानों के संबंध में जानकारी ले रही है। इसको लेकर सीतामढ़ी एसपी मनोज कुमार ने दोनों दारोगा और गिरफ्तार सिपाही को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही तीनों की बर्खास्तगी को लेकर प्रोसीडिंग चलाने का आदेश दिया है।

इस थाना से पहले जितेन्द्र कुमार सुमन महिन्दवारा थानाध्यक्ष व तकनीकी शाखा का कार्यभार संभाल चुके है। वहीं दारोगा रामप्रवेश उरांव नानपुर थानाध्यक्ष, एएलटीएफ प्रभारी, तकनीकी शाखा, सोनबरसा थाने में जेएसआई का पद संभालने के बाद नगर में जेएसआई के पद पर कार्यरत थे।

कांटी थाना क्षेत्र के सादतपुर में बस से जब्त 173 कार्टन शराब जब्ती में सीतामढ़ी डीआईयू के सिपाही अनिमेष कुमार पटेल के अलावा दो दारोगा भी शराब धंधा में शामिल था। दोनों दारोगा समेत आठ धंधेबाजों को शराब तस्करी के लिए कांटी थाने में दर्ज की गई थी। इस मामले में पुलिस ने सिपाही अनिमेष, धंधेबाज सकिंदर, रामप्रवेश, प्रशांत और अजय कुमार को गिरफ्तार किया है। जबकि जेएसआई रामप्रवेश उरांव और जेएसआई जितेन्द्र कुमार सुमन फरार हो गए हैं।

मुजफ्फरपुर जिला के कांटी थाना के थानाध्यक्ष संजय कुमार का कहना है कि सोमवार की देर रात सीतामढ़ी में कार्यरत दारोगा जीतेंद्र सुमन ने उन्हें कॉल कर कहा कि सदातपुर में दरभंगा मोड़ के पास एक यात्री बस को कुछ गुंडों ने घेर लिया है, कृपया पुलिस भेजकर बस को वहां से निकलवा दीजिए। इस सूचना पर कांटी थाने के दारोगा उमाशंकर सिंह को घटनास्थल पर भेजा गया। वहां पहुंचने पर बस घेरने वालों ने बताया कि बस में शराब है जिसे ये लोग निकालकर ले जाना चाह रहे हैं। उनलोगों के कहने पर जब उमाशंकर सिंह ने जब जांच किया तो बस में 173 कार्टून शराब बरामद हुआ। शराब बरामद होते ही बस में शराब लेकर आए डीआईयू के सिपाही अनिमेश कुमार पटेल समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।

मुजफ्फरपुर जिला के कांटी थाना के थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि जब्त शराब नानपुर थाना क्षेत्र के शराब माफिया अनिल महतो ने मंगवाया था। इतना ही नहीं नगर थाना में जेएसआई के पद पर पदस्थापित रामप्रवेश उरांव, महिला थाने में जेएसआई के पद पर कार्यरत दारोगा जितेन्द्र कुमार सुमन और सीतामढ़ी के डीआईयू में कार्यरत सिपाही अनिमेश कुमार पटेल भी इस मामले में शराब माफियाओं के साथ थे।

कांटी पुलिस के हत्थे चढ़े तस्करों ने पुलिस को बताया कि शराब कांड के मुख्य सरगना अनिल महतो ने उन्हें फोन पर बताया था कि सीतामढ़ी दुर्गा मंदिर के पास दारोगा रामप्रवेश उरांव और दारोगा जितेन्द्र कुमार सुमन बस को अपने अभिरक्षा में लेकर आयेंगे। इसमें सभी को बैठ जाने की बात कहीं गयी थी। तस्करों ने पुलिस को बताया कि ब्रेजा कार से दारोगा जितेन्द्र कुमार सुमन और रामप्रवेश उरांव आने बस के आगे पीछे चलेंगे। पुलिस के मुताबिक शराब के सिंडिकेट का सरगना नानपुर थाना क्षेत्र का है। इससे आशंका जताया जा रहा है कि दारोगा रामप्रवेश उरांव के नानपुर थानेदार के पद पर रहने के दौरान शराब तस्करों से मेल बढ़ा। इसके बाद दारोगा शराब तस्करी के इस सिंडिकेट में शामिल हो गये। सीतामढ़ी में शराब कांड में वांटेड धंधेबाज सकिंदर को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सकिंदर वांटेड रहने के बाद भी सीतामढ़ी पुलिस के साथ था।

कांटी पुलिस के द्वारा दर्ज एफआईआर के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्तों ने पूरी कहानी बताई। सीतामढ़ी के नानपुर के शराब माफिया अनिल महतो ने बताया था कि दारोगा रामेश्वर उरांव व दारोगा जितेंद्र कुमार सुमन गाड़ी लेकर सीतामढ़ी दुर्गा स्थान पहुंचेंगे। तुमलोग उस गाड़ी में बैठ जाना। सदातपुर में जितेन्द्र कुमार सुमन खुद कार चलाकर पहुंचा था। उस कार में राम प्रवेश उरांव और सकिंदर कुमार था। इनके पीछे एक लाल रंग की स्कॉर्पियो में रामप्रवेश पटेल, प्रशांत कुमार, अजय कुमार व अनिमेष पटेल बैठा था। शराब जब्ती और पांच लोगों की गिरफ्तारी के बाद दारोगा जीतेंद्र सुमन और रामेश्वर उरांव कांटी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए।

Continue Reading
You may also like...

More in Featured

February 2024
M T W T F S S
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
26272829  
To Top